नेताओं की बातें निराली, जवाब मिली तो हंसी की हरियाली

पहला आदमी: फिलहाल अमरिका में चुनाव चल रा है. अपणा कौण सा इसमें कोई फायदा होणे वाला है. अमरिका क्या हमारे देश में सुलभ शोचालय बनवा कर गया है. जो हम उस देस में हो रहे चुनावों के बारे में खुस हों.

 

दूसरा आदमी: अरे नहीं उस्ताद, हम तो वैसे ही बात कर रहे थे. चलो जे बताओ कि हमारे देश में रूलाने वाले नेता तो बहुत से हैं, लेकिन हंसाने वाले कितने हैं बाबा?

 

पहला आदमी: अरे भईया. नेता लोग हंसाते नहीं बल्कि उनकी बातों पर हंसी अपने-आप ही आ जावे है. अबे तू dTrending.Com नही पढ़ता क्या? जे देख उन्होंने इसका जवाब पेल रखा है.

123768948_converted

Facebook Comments